Sad Shayari, Na Aana Khayal Mein

Sad Shayari, Na Aana Khayal Mein

sad shayari

Ab TumKo Bhool Jaane Ki Koshish Karenge Hum,
Tum Se Bhi Ho Sake Toh Na Aana Khayal Mein.
अब तुम को भूल जाने की कोशिश करेंगे हम
तुम से भी हो सके तो न आना ख़याल में।

Najar Bacha Ke Gujar Jayein Woh Mujhse Lekin,
Mere Khayal Se Daaman Woh Bacha Nahi Sakte.
नजर बचा कर गुजर जाएँ वो मुझसे लेकिन,
मेरे ख्याल से दामन वो बचा नहीं सकते।

Kuchh Itne Diye Hain Hasrat-e-Deedar Ne Dhokhe,
Woh Saamne Baithhe Hain Yakeen HumKo Nahi Hai.
कुछ इतने दिए हसरत-ए-दीदार ने धोखे,
वो सामने बैठे हैं यकीन हम को नहीं है।

Kisi Ko Ghar Se Nikalte Hi Mil Gayi Manzil,
Koi Humari Tarah Umr Bhar Safar Mein Raha.
किसी को घर से निकलते ही मिल गई मंजिल,
कोई हमारी तरह उम्र भर सफर में रहा।

Teri Nigaah Mein Ek Rang-e-Ajnabiyat Tha,
Kis Aitbaar Pe Hum Khul Ke Guftugu Karte.
तेरी निगाह में एक रंग-ए-अजनबियत था,
किस ऐतबार पे हम खुल के गुफ्तगू करते।

Lamhon Ki Daulat Se Dono Hi Mahroom Rahe,
Mujhe Churana Na Aaya Tumhein Kamana Na Aaya.
लम्हों की दौलत से दोनों ही महरूम रहे,
मुझे चुराना न आया, तुम्हें कमाना न आया।

Na Jaane Iss Zid Ka Nateeja Kya Hoga,
Samjhata Dil Bhi Nahi Main Bhi Nahi Tum Bhi Nahi.
ना जाने इस ज़िद का नतीजा क्या होगा,
समझता दिल भी नहीं मैं भी नहीं और तुम भी नहीं।

Sirf Ek Mohabbat Ki Roshni Hi Baaki Hai,
Varna Jis Taraf Dekho Dur Tak Andhera Hai.
सिर्फ एक मोहब्बत की रौशनी ही बाकी है,
वरना जिस तरफ देखो दूर तक अँधेरा है।

 

Love Shayari,  Hindi Shayari , Shayari on Love

. Sad Shayari

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *