Love Shayari, Tumhari Chahton Ke Phool

Love Shayari, Tumhari Chahton Ke Phool

Love Shayari

Yeh Mat Kehna Ke Teri Yaad Se Rishta Nahi Rakha,
Main Khud Tanha Raha Magar Dil Ko Tanha Nahi Rakha,
Tumhari Chahton Ke Phool Toh Mehfooz Rakhe Hain,
Tumhari Nafraton Ki Peer Ko Zinda Nahi Rakha.
ये मत कहना कि तेरी याद से रिश्ता नहीं रखा,
मैं खुद तन्हा रहा मगर दिल को तन्हा नहीं रखा,
तुम्हारी चाहतों के फूल तो महफूज़ रखे हैं,
तुम्हारी नफरतों की पीर को ज़िंदा नहीं रखा।

Sab Kuchh Mila Sukoon Ki Daulat Nahi Mili,
Ek Tujhko Bhool Jaane Ki Mohlat Nahi Mili,
Karne Ko Bahut Kaam The Apne Liye Magar,
Humko Tere Khayal Se Kabhi Fursat Nahi Mili.
सब कुछ मिला सुकून की दौलत नहीं मिली,
एक तुझको भूल जाने की मोहलत नहीं मिली,
करने को बहुत काम थे अपने लिए मगर,
हमको तेरे ख्याल से कभी फुर्सत नहीं मिली।

तेरे ख्याल से खुद को छुपा के देखा है,
दिल-ओ-नजर को रुला-रुला के देखा है,
तू नहीं तो कुछ भी नहीं है तेरी कसम,
मैंने कुछ पल तुझे भुला के देखा है।

Tere Khayal Se Khud Ko Chhupa Ke Dekha Hai,
Dil-o-Najar Ko Rula-Rula Ke Dekha Hai,
Tu Nahi To Kuchh Bhi Nahi Hai Teri Kasam,
Maine Kuchh Pal Tujhe Bhula Ke Dekha Hai.

हम आपकी हर चीज़ से प्यार कर लेंगे,
आपकी हर बात पर ऐतबार कर लेंगे,
बस एक बार कह दो कि तुम सिर्फ मेरे हो,
हम ज़िन्दगी भर आपका इंतज़ार कर लेंगे।

Hum Aapki Har Cheez Se Pyar Kar Lenge,
Aapki Har Baat Par Aitbaar Kar Lenge,
Bas Ek Bar Keh Do Ki Tum Sirf Mere Ho,
Hum Zindagi Bhar AapKa Intezaar Kar Lenge.

Love Shayari,  Hindi Shayari , Shayari on Love

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *