Love Poetry, Hum Jise Chaahe

Love Poetry , Hum Jise Chaahe

Love Poetry in Hindi

Love Poetry : Dil Ki Baat Zamaane Ko Bata Dete Hain,
Apne Har Raaz Par Se Parda Uthha Dete Hain,
Aap Humein Chaahe Na Chaahe Iska Gila Nahi,
Hum Jise Chaahe Us Par Jaan Luta Dete Hain.

दिल की हर बात जमाने को बता देते हैं,
अपने हर राज पर से परदा उठा देते हैं,
आप हमें चाहें न चाहें इसका गिला नहीं,
हम जिसे चाहें उस पर जान लुटा देते हैं।

Chehre Par Marne Wale Hajaar Mil Jayenge,
Kuchh Log Har Jarurat Puri Kar Jayenge,
Khwahish Hai Uski Jo Dil Se Samjhe Humein,
Hum Toh Zindagi Bhi Uske Naam Kar Jayenge.

चेहरे पर मरने वाले हज़ार मिल जायेंगे,
कुछ लोग हर जरुरत पूरी कर जायेंगे,
ख्वाहिश है उसकी जो दिल से समझे हमें,
हम तो जिंदगी भी उसके नाम कर जायेंगे।

 

Khuli Jo Aankh Toh Na Wo Tha Na Wo Zamana Tha,
Bas Dehakati Aag Thi Tanhayi Thi Fasaana Tha,
Kya Hua Jo Chand Hi Kadmon Pe Thak Ke Baith Gaye,
Tumhein Toh Saath Mera Dur Tak Nibhana Tha.

खुली जो आँख तो न वो था न वो ज़माना था,
बस दहकती आग थी तन्हाई थी फ़साना था,
क्या हुआ जो चंद ही क़दमों पे थक के बैठ गए,
तुम्हें तो साथ मेरा दूर तक निभाना था।

 

Love ShayariHindi Shayari , Shayari on Love

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *