Hindi Shayari, Dil Ki Dahleej

Hindi Shayari, Dil Ki Dahleej

Hindi Shayari

Dil Ki Dahleej Par Yaadon Ke Deeye Rakhe Hain,
Aaj Tak Hum Ne Yeh Darwaaje Khule Rakhe Hain,
दिल की दहलीज पर यादों के दिए रखें हैं,
आज तक हम ने ये दरवाजे खुले रखे हैं।

Iss Kahani Ke Woh Kirdar Kahan Se Laaun,
Wohi Dariya Hai Wohi Kachche Ghade Rakhe Hain,
इस कहानी के वो किरदार कहाँ से लाऊं,
वो ही दरिया है वो ही कच्चे घड़े रखे हैं।

Hum Par Jo Gujri Bataya Na Batayenge Kabhi,
Kitne Khat Ab Bhi Tere Likhe Huye Rakhe Hain,
हम पर जो गुजरी बताया न बताएँगे कभी,
कितने ख़त अब भी तेरे लिखे हुए रखे हैं।

Aapke Paas Kharidari Ki Kuwwat Hai Agar,
Aaj Sab Log Dukaano Mein Saje Rakhe Hain.
आपके पास खरीदारी की कुव्वत है अगर,
आज सब लोग दुकानों में सजे रखे हैं।

Jin Ke Aangan Mein Ameeri Ka Shajar Lagta Hai,
Unka Har Aib Bhi Jamane Ko Hunar Lagta Hai.
जिन के आंगन में अमीरी का शजर लगता है,
उन का हर एब भी जमानें को हुनर लगता है।

Sari Galti Hum Apni Kismat Ki Kaise Nikal Dein
Kuchh Sath Humara Teri Ameeri Ne Bhi Toda Hai.
सारी गलती हम अपनी किस्मत की कैसे निकल दें,
कुछ साथ हमारा तेरी अमीरी ने भी तोडा है।

Tumse Mila Tha Pyar Kuchh Achhe Naseeb The,
Hum Unn Dino Ameer The Jab Tum Gareeb The.
तुमसे मिला था प्यार कुछ अच्छे नसीब थे,
हम उन दिनों अमीर थे जब तुम गरीब थे।

Kaise Banega Ameer Wo Hisaab Ka Kachha Bhikhari,
Ek Sikke Ke Badle Jo Besh-Keemti Duaayen Deta Hai.
कैसे बनेगा अमीर वो हिसाब का कच्चा भिखारी,
एक सिक्के के बदले जो बेशकीमती दुआये दे देता है।

Love Shayari,  Hindi Shayari , Shayari on Love

.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *